हेलो दोस्तों आपका हमारे ब्लॉग पर एक और नए पोस्ट में स्वागत है यदि आप नहीं जानते OTP क्या होता है तो आज आपको OTP से सम्बंधित सभी सवालो के जवाब हमारे इस पोस्ट में मिल जायेंगे जैसे की OTP क्या है, इसका इस्तेमाल क्यों और कैसे किया जाता है आपको इस आर्टिकल में इन सभी सवालो के जवाब मिल जाएंगे।

आज के समय मे हर चीज़ ऑनलाइन हो चुका है और लगभग हर कोई अपना सारा काम ऑनलाइन ही करना पसंद करते है वो चाहे Online Shopping, Online Recharge या Online Banking आदि हो। आप आज के समय मे सबकुछ ऑनलाइन ही कर सकते है अब ऐसे में यंहा बात आती है ऑनलाइन Frauds की यानि हम ऑनलाइन सारे काम कर तो रहे है परन्तु हम कितने सुरक्षित तरीको से सभी काम कर रहे है क्युकी आजकल Online Fraud बहुत ज्यादा होने लग गए है इसलिए हमें OTP की आवश्यकता पड़ी।

OTP kya hai

OTP क्या है ? – OTP in hindi

OTP 4 या 6 नंबर का एक One Time Password होता है जो ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते समय या एकाउंट बनाते समय आपके वेरिफिकेशन के लिए sms या Email के जरिये आप तक आता है। आप OTP को एक बार इस्तेमाल किये जाने वाला पासवर्ड भी कह सकते है और इसके बिना आपका ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पूरा नही हो सकता है। इसका इस्तेमाल आपके ट्रांजेक्शन को सिक्योर करने के लिए किया जाता है।

OTP की आवश्यकता क्यों पड़ती है

अगर हम आज की बात करे तो इंटरनेट का बहुत ज्यादा उपयोग किया जा रहा है जिसको ध्यान में रखते हुए हम इंटरनेट को उपयोग करते समय हमारे डेटा को कितना सुरक्षित रख पाते है क्युकी आज इंटरनेट पर आये दिन धोखाधड़ी की घटनाये सामने आती रहती है।

इसलिए Online Transaction, Online Shopping सभी में OTP को जोड़ दिया गया है जिससे हमारी Privacy लीक न हो पाए इसीलिए आज OTP को सभी Online कम्पनिया अपना रही है इसीलिए हमें OTP की आवश्यकता पड़ने लगी।

OTP का Full Form क्या है

OTP का Full Form “One Time Password” होता है।अगर हिंदी में परिभाषित किया जाये तो “एक बार उपयोग किया जाने वाला पासवर्ड” OTP को हम केवल एक ही बार उपयोग कर सकते है और इसकी कुछ समयावधि होती है जिसके बाद इसका इस्तेमाल नही किया जा सकता, इसीलिए इसे One Time Password कहा जाता है।

OTP कहा-कहा दिए जाते है

आज अगर देखा जाये तो OTP लगभग सभी जगहों पर मिलता है जैसे Online Shopping बैंक में Net Banking का उपयोग करते समय  इसके अलावा यदि आप किसी भी Email Service का उपयोग करते है जैसे Gmail, Outlook, Rediffmail तब भी इन साइट्स पर अकाउंट बनाते समय आपको OTP आपके Mobile No पर भेजा जाता है वह डालने पर ही आपका Account बनता है।

यंहा यदि आप Amazon,  Flipkart, Ebay या Snapdeal जैसी Online Shopping Apps या Websites  का उपयोग करते हो तो आपको OTP आपके मोबाइल नम्बर पर भेजा जाता है।इसके अलावा यदि आप ऑनलाइन रिचार्ज करते है। तब भी आपको OTP भेजा जाता है इसके अलावा यदि आप Google Pay, Phone Pay या Paytm या कोई भी ऑनलाइन वॉलेट का उपयोग करते है तब भी अकाउंट बनाते समय OTP भेजा जाता है जिससे पुष्टि हो सके।

OTP कितने तरीको से प्राप्त होता है

ज्यादातर OTP SMS के द्वारा ही प्राप्त किया जाता है जो की नंबर के फॉर्म में होता है पर यंहा OTP  के तीन तरीके और भी है.

  • SMS के द्वारा – इसमें हमें SMS के द्वारा OTP मिलता है।
  • E-mail के द्वारा – यंहा हमें OTP ईमेल के माध्यम से भेजा जाता है।
  • Voice Call के द्वारा – यंहा हमने जो मोबाइल नंबर दिया है उस नंबर पर कॉल आता है तब हमें OTP मालूम होता है।

इस इमेज में आपको जो दिखाई दे रहा है ये गूगल का OTP के लिए मेल है जंहा OTP 516704 है।

OTP Email Example

और नीचे वाली इमेज में जो OTP आया है वह SMS के माध्यम से OTP आया है जो की फेसबुक का लॉगिन कोड है।

OTP sms

Note- बहुत बार ऐसा भी होता है की आपको SMS पर और Email दोनों पर एक साथ OTP Send कर दिया जाता है जिससे Users को आसानी होती है।

OTP का Format कैसा होता है

ज्यादातर OTP 4 या 6 words के नंबर में ही होते है। Example – 552276 जो आपको sms, Email या Call के थ्रू दिए जाते है। लेकिन इसके अलावा OTP कई और तरह के भी होते है, जैसे अल्फानुमेरिकल फॉर्मेट AB1414 इस तरह के भी होते है यंहा पर कुछ डिजिट 4 में होते है और कुछ 6 में होते है।

OTP  कितने समय के लिए Valid होता है

यदि आप कोई भी सर्विस उपयोग कर रहे है तो हर सर्विस का OTP Validity समय अलग अलग होता है सामान्य तौर पर OTP 30 मिनट तक वैलिड होता है। उसके बाद Expire हो जाता है पर यदि आप कोई ऑनलाइन Transaction कर रहे है तो उस OTP का समय 10 मिनट या फिर ज्यादा से ज्यादा 15 मिनट तक होता है पर यंहा पर OTP एक बार Expire हो जाने के बाद वापस से उपयोग में नहीं लाया जा सकता है इसलिए जब भी OTP  आये तो उसे तुरंत Fill करले।

और कई बार कुछ OTP 2 मिनट से लेकर 24 घंटे तक भी वैलिड रहते है और ये पूरी तरह निर्भर करता है कि आपको OTP कहा से और क्यों दिया जा रहा है, जैसे ऑनलाइन पेमेंट वेरफिकेशन के लिए जो ओटीपी आता है वो 2 मिनट से 5 मिनट तक वैलिड होता है, ऑनलाइन आधार कार्ड अपडेट करते समय जो OTP आता है वो 10 मिनट तक वैलिड होता है और कई बार कही पर एकाउंट बनाते समय जो OTP आता है वो 10 मिनट से लेकर 24 घंटे तक भी वैलिड होता है।

OTP का इतिहास

OTP का जनक Leslie Lamport को माना जाता है। OTP का चलन शुरू होने लगा और  बहुत से देशो में यह अपनाया जाने लगा और यदि आप नहीं जानते तो आपको बताना चाहूंगा की द्वितीय विश्व युद्द के दौरान भी OTP का उपयोग किया था।

वैसे तो OTP की शुरुआत बहुत पहले से की जा चुकी थी परन्तु ज्यादा आधुनिक युग न होने के कारन और इंटरनेट के इतना विकसित न होने के कारण यह कभी भी चलन में नहीं आ पाया। परन्तु अब बहुत ज्यादा इंटरनेट उपभोक्ता होने के कारण OTP की जरुरत बहुत ज्यादा होने लगी।

OTP के क्या क्या फायदे है 

OTP के ऐसे बहुत सारे फायदे है और सबसे बड़ा फायदा तो यह है की इसकी वजह से आपको बेहतर सुरक्षा मिलती है, जिससे आपका ट्रांजेक्शन बोहोत हद तक सेफ और सिक्योर हो जाता है। और साथ ही लॉगिन उसी व्यक्ति के द्वारा किया जा सकता है जिसे OTP प्राप्त होता है।

इसीलिए OTP की वजह से आपको ऑनलाइन फ़्रॉड्स की टेंशन लेने की जरूरत नहीं होती है क्योंकि आज के समय मे बिना OTP के किसी भी ट्रांजेक्शन नही किया जा सकता, और अगर आपकी कोई बैंकिंग डिटेल्स भी किसी के हाथ लग जाये तो ऐसे में वो व्यक्ति भी बिना OTP के उसका कोई गलत इस्तेमाल नही कर सकता है।

और साथ ही में आपको ये सलाह भी ज़रूर देना चाहूंगा कि आप सभी सोशल मीडिया एकाउंट और दूसरे सभी एकाउंट्स में login के लिए Two Srep Verification जरूर इनेबल करके रखे ताकि बिना OTP के कोई भी व्यक्ति यहा तक कि आप भी अपने एकाउंट में लॉगिन नही कर पाएंगे। इससे आपके सभी एकाउंट्स पहले के मुकाबले बोहोत सिक्योर हो जाएंगे।

इसमें हमें फायदा यह हो जाता है की हमें ये टेंशन लेने की कोई जरुरत नहीं होती की कोई अन्य व्यक्ति हमारा किसी भी तरह का अकाउंट कही और लॉगिन नहीं कर पाता बस आपसे एक ही बात कहना चाहूंगा आपके जितने भी ऑनलाइन एकाउंट्स है उनमे OTP आने पर ही लॉगिन हो सेटअप ज़रूर कर ले इससे आपकी प्राइवेसी लीक होने खतरा बोहोत कम हो जायेगा.

OTP के नुकसान 

वैसे देखा जाये तो OTP से किसी भी तरह का नुक्सान नहीं होता है, लेकिन OTP के साथ सावधानी न बरती जाये तो ये आपके लिए नुक्सान दायक जरूर हो सकता है। जैसा की आप जानते है online fraud से बचने के लिए ही OTP को लाया गया है और अगर आपका OTP किसी गलत व्यक्ति के हाथो में चले जाये तो आपको बड़ा नुक्सान झेलना पढ़ सकता है।

इसीलिए आपको अपना OTP कभी भी किसी भी व्यक्ति को नही बताना चाहिए चाहे कोई ये दावा ही क्यों न करे कि वो बैंक की तरह से बात कर रहा है या किसी कंपनी के तरफ से।

ये उपयोगी जानकारी भी जरूर पढ़ें

अंतिम शब्द

मुझे उम्मीद है मेरे द्वारा दी गई जानकारी OTP क्या है और OTP का इस्तेमाल क्यों किया जाता है आपको पसंद आई होगी और आपको हमारे इस पोस्ट से काफी कुछ सिखने को भी मिला होगा। यदि आपका इस पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव है तो हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताये और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करके उन्हें भी सतर्क करे।

आपका स्वागत है Indiakabest.in पर, मेरा नाम है Shehzad Ansari और मैं इस website का founder हूँ। यहा आपको हर रोज Internet और Android से जुड़ी नई-नई जानकारियां मिलती रहेगी. अगर आप भी एक Android user है तो हमारे ब्लॉग को follow जरूर करे। आप Google पर IndiaKaBest search करके हमारे ब्लॉग पर आ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here