यदि आप नहीं जानते की Microsoft Windows क्या है तो आप एक दम सही पोस्ट पर आये है इस पोस्ट में आज मैं आपको यही बताऊंगा की माइक्रोसॉफ्ट विंडोज क्या होता है और इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है साथ ही यह भी बताऊंगा की Windows की शुरुवात कब हुई। what is windows in hindi की पूरी जानकारी के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

Microsoft Windows क्या है -What is Windows in Hindi

microsoft windows kya hai hindi

Microsoft Windows एक कंप्यूटर में चलाया जाने वाला Oparating System है जो की Graphical Based OS (Oparating System) है जिसका उपयोग करके हम कंप्यूटर में सारे काम करते है इसकी शुरुवात19 नवंबर 1985 में Microsoft Corporation द्वारा की गई थी । यदि आप नहीं जानते तो आपकी जानकारी के लिए बता दू की Microsoft Corporation एक बहुत ही बड़ी IT कंपनी है जिसकी शुरुवात 1975 में Bill Gates, Paul Allen द्वारा की गई थी ।

Microsoft Windows आज के समय में काफी प्रचलित और सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला एक कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम है। इस Oparating System की खासियत यह है की इसका User Interface काफी सरल सा है ताकि कोई भी व्यक्ति उसे उपयोग में लाये तो सभी चीज़ो को आसानी से समझ सके।

अगर आज के दौर में देखा जाए तो Windows Oparating System को हर क्षेत्र में उपयोग में लाया जा रहा है। और आपने भी इसे अपने school, collage, office या आस पास के दुकानों में इस्तेमाल होते हुए जरूर देखते होंगे। और ऐसे में microsoft windows क्या है यह जानने की जिज्ञासा और भी बढ़ जाती है।

और यहा तक कि यह पोस्ट जो आप पढ़ रहे है इसे लिखने के लिए भी Windows Oparating System का ही उपयोग किया गया है जिससे आप समझ सकते है की आज Windows Oparating System का उपयोग कितना किया जा रहा है।

Windows Oparating System का इंटरफ़ेस Graphical User Interface पर आधारित है इसे संक्षिप्त में GUI भी कहा जाता है। पहले इंटरनेट का उपयोग कम होता था जैसे जैसे इंटरनेट का उपयोग ज्यादा होने लगा वैसे वैसे ग्राफिकल Software का उपयोग भी बोहोत तेजी से बढ़ने लगा इसी को ध्यान में रख कर Windows Oparating System ने Graphical User Interface पर आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम को लांच किया जिसे आज हम सभी Windows के नाम से जानते है।

अगर हम इसे परिभाषित करे तो इसे कुछ इस तरह परिभाषित किया जा सकता है –

Windows Oparating System एक कंप्यूटर से जुड़े सभी हार्डवेयर को अपने नियंत्रण में रखता है जिससे वह किसी भी हार्डवेयर के द्वारा दिया जाने वाला टास्क पूरा करके उससे मिला जाने वाला डेटा अपने अंदर स्टोर कर पाए।

विंडोज का इतिहास

Windows की शुरुवात 1980 के दशक में की गई थी उस समय कम्प्यूटर्स का इतना उपयोग नहीं किया जाता था जितना आज के समय में किया जाता है उस समय की अगर मैं आप से बात करू तो Windows ने दो Oparating Systems को बनाया था जिसे मुख्यतः 2 हिस्सों में बाटा गया था पहला है Windows MS Dos और दूसरा Windows NT ये दोनों Opareting Sysytems को बनाया था जो उस समय में बहुत प्रचलित हुए थे परन्तु आज जो हम Oparating System उपयोग करते है वह पहले की तुलना मैं काफी एडवांस्ड है । और हम एक एक करके सभी Windows Oparating Systems के Versions को जानेंगे।

Windows 1.0

यह पहला Windows की तरफ से Launch किया जाने वाला Oparating System था जो की 1985 में Microsoft द्वारा Launch किया गया था। यह माइक्रोसॉफ्ट की तरफ से पहला 16 BIT पर चलने वाला Graphical User Interface Based Oparating System था। इस OS (Oparating System) में बहुत कम चीज़े हुआ करती थी जैसे कैलकुलेटर,कैलेंडर आदि चीज़े थी । यह MS DOS पर आधारित Oparating System था। इसमें एक बार में एक ही विंडोज को उपयोग किया जा सकता था।

Windows 2.0

यह Microsoft की तरफ से Launch किया जाने वाला दूसरा Oparating System था। इस OS में पहले Version की अपेक्षा कुछ नए Fetures को सम्मिलित किया गया था जैसे की MS Word, MS Excel इसके अलावा इस Version में एक साथ में कई Windows में काम किया जा सकता था। साथ ही इस Version में सभी OS की setting को एक साथ रखने के लिए Control Penal की शुरुवात की गयी थी और यह OS 386 Prossasor पर चलता था .

Windows 3.0

यह Version 1990 के दौरान लॉन्च किया गया था यह नए Icons के साथ आया था और देखने में इसका इंटरफ़ेस काफी बेहतर था यह Microsoft की तरफ से लॉन्च किया जाने वाला फल ऐसा OS था जिसमे Hard Disk को कनेक्ट किया जा सकता था। इस Version में एक साथ बहुत सरे Programs को Run कर सकते थे और साथ ही यह उस समय का काफी प्रचलित OS बन चूका था।

इस OS को Developers ने काफी पसंद किया था क्युकी इसमें SDK (Software development kit) पमेंट किट का सपोर्ट था जिससे वह इस OS की मदद से नयी नयी Application को Write कर सकते थे ।

यह OS Virtual Drivers को भी Support करता था जिससे हार्डवेयर पर Depend नहीं होना पड़ता था।

Windows 3.1

इस Version को 1992 में लाया गया था और यह पिछले सभी Versions से एडवांस्ड था। इस Version में पहली बार Ram का उपयोग किया गया था जिससे की Computer अच्छे से Fast चल सके। और साथ ही इसमें Mouse का बहुत उपयोग किया जाने लगा था। इस Version में यदि आप Hard Drive में CD ROM इनस्टॉल कर लेते हो तो यह 10 से 15 MB को अपने लिए इस्तेमाल करके रखता था।

साथ ही इसी Version से किसी भी बाहरी मल्टीप्ल इनपुट Device को जोड़ने की भी सुविधा प्रदान की गई थी। पुराने Version में बहुत बार OS हैंग की समस्या उत्पन्न होती थी इस समस्या को ध्यान में रखते हुए Microsoft ने इसमें किसी भी एप्लीकेशन को जो हैंग कर रही है तो उसे एक बार में ही क्लोज किया जा सकता था जो की इस Version में काफी उपयोगी था।

Windows 95

Windows 95 के नाम से ही पता चलता है की यह Version सन 1995 में लाया गया था जो की सभी Versions से काफी एडवांस्ड था। इसमें निचे Task Bar देखने को मिला था Start, Menu button ये सभी Feature देखने को मिलते थे साथ ही इसकी Kernal Type Monolithic थी। साथ ही यह Version 32 Bit पर चलता था इस Version के आने के बाद Computer Software में एक करती जैसी आगयी थी क्युकी यह उस समय का काफी अच्छा Version था।

Windows 4.0

Windows 4.0 31 जुलाई 1996 में लाया गया था जो की Windows NT family का हिस्सा था इसमें भी स्टार्ट मेनू देखने को मिलता था और साथ ही IA-32 Alpha पर आधारित Version था जिसका Kernal Type – Hybrid था । यह भी windows का बोहोत अच्छा version था।

Windows 98

यह एक कमर्शियल Version था जो की 15 may 1998 में लॉन्च किया गया था। जो की DOS फॅमिली का मेंबर था इसका kernal Type Monolithic था। यह DVd और USB को सपोर्ट करता था। इस Version को बाहरी Device के लिए ज्यादा अच्छे से तैयार किया गया था। इस Version में आपको Address Bar , Explorer जैसे Fetures देखने को मिलते थे साथ ही इसमें विंडोज के आने वाले Version को सपोर्ट करने के लिए Driver का Support भी दिया गया था जो की एक काफी Latest Feature हुआ करता था इस Version का।

Windows ME

Windows ME 14 Sep 2000 में लॉन्च किया गया जाने वाला पहला ऐसा Version था जो की Digital Media को support करता था। इसमें आप Digital Camra को Connect करके डाटा Transfer कर सकते थे साथ ही इसमें Movie Maker और Media Player 7 जैसे सॉफ्टवेयर को लाया गया था जो की केवल इसी Version में देखने को मिलता था। इस Software में Basic Video Editing की जा सकती थी ।

इसी Version में internet Explorer को शामिल किया गया था अगर सुरक्षा की बात करे तो इस Version में System File Protection को शामिल किया गया था जो की Files को काफी हद तक सुरक्षा प्रदान करता था।

Windows 2000

यह Version 17 Feb 2000 में लाया गया था जो की Windows NT family का पार्ट था और यह बाद में Windows XP का Base Version बन चूका था। इस Version में एक साथ बहुत सारे बाहरी Device को जोड़ा और चलाया जा सकता था साथ ही इस Version में Hybarnation का Feature भी दिया गया था जिससे इसे निच्शित समय के लिए बंद किया जा सके।

Windows XP

Windows XP विंडोज NT फॅमिली का पार्ट था जो 25 अक्टूबर 2001 को लांच किया गया था। इस Version का Interface बहुत ही ज्यादा User-Freindly था और लोगो द्वारा इसे बहुत पसंद किया गया। इस Version में Microsoft के द्वारा बहुत बार अपडेट दिए जाते थे और साथ ही इस Version में 2014 तक Update मिली उसके बाद इस Version में Update देना बंद कर दिया गया।

इसमें Start Button का कलर ग्रीन कर दिया गया था और इस Version का Layout पुराने version से थोड़ा दिखने में अच्छा भी था। Windows XP एक Buissness Market में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला Windows का पहला Version था।

Windows XP में Firewall Security में Option हमेशा Turn Off ही होता था जो की hackers को System पर Attack करने के लिए काफी होता था ये एक बड़ी समस्या थी Windows XP Version में और बाद में इसे सही कर दिया गया था।

Windows Vista

इस Version को 2006 में लॉन्च किया गया था। इस Version में भी काफी Bugs थे इसलिए इस Version को केवल 3 साल ही चलाया गया इस Version में अगर Security देखि जाए तो Bitlocker Drive Encyption होती थी जो की Files को काफी सुरक्षा प्रदान करती थी और साथ में ही इस Version में Media को लेकर काफी Upadte देखने मिले जैसे Photo Editing Video Editing ये सभी काफी अच्छे Update लाये गए थे।

उस समय PC में Games को लेकर यह Version काफी Fast था। इस Version में Windows Media Player 7 को Update करके Windows Media Player 11 लाया गया था जो की old का एक Upadated Version था।

Windows 7

यह Windows Version 2009 में लॉन्च किया गया था जो की मैंने खुद भी उपयोग मैं लाया है यह काफी फ़ास्ट Version है। बहुत से व्यक्ति आज भी इस Version का उपयोग करते है और इसे बोहोत पसंद भी करते है। Windows 7 एक ऐसा Version साबित हुआ था जो पहले के Versions के मुकाबले ज्यादा सही User Interface लेकर आया था। जो company चलते है और प्रोफेसनल उपयोग करते है उनके लिए Windows 7 काफी बेहतर Version साबित हुआ।

Feature की बात करे तो इस Version में Task Bar में Program के Icon पर क्लिक करके सभी Open Windows को एक साथ देख सकते थे। उसके अलावा इसके Installation में बहुत ही कम समय लगता था। इसमें बार बार Security Alert का Pop-up नहीं show होता था। किसी भी बाहरी device को आसानी से जोड़ सकते थे। इसके अलावा भी इस Version में काफी New Features को भी लाया गया था।

लेकिन 2020 में microsoft ने ये साफ कर दिया कि अब से window 7 में किसी तरह के update नही दिए जाएंगे और न ही उनकी तरह से किसी तरह की मदद की जाएगी windows 7 के लिए।

Windows 8

Microsoft द्वारा Windows 8 को 26 अक्टूबर 2012 में लॉन्च किया गया था। Windows 7 में बहुत सरे Features को लाने के बाद भी कुछ नए Fetures के साथ Windows 8 में नई User Interface को Update किया गया था जिससे इस Version को उपयोग करने में बहुत अच्छाअनुभव होता था। Start Menu Button को चेंज कर दिया गया था।Windows 7 से ज्यादा फ़ास्ट और Stable Version 8 था।

इस Version में Windows Store को पहली बार लाया गया था और जो Old Icons थे उनको भी बदल दिया गया था जिससे की इंटरफ़ेस में थोड़ा बदलाव आ सके। इस Version में USB 3.0 का Support था उसके अलावा Security में इसमें malware filtering और Spam Filtering जैसे Feature शामिल किये गए थे । जो की बहुत उपयोगी फीचर्स थे।

Windows 8.1

यह Version Windows 8 का छोटा Version था जो कि 17 अक्टूबर 2013 को लॉन्च किया गया था । यह IA 32 Plateform को Support करता था। और इसका kernal type Hybrid था । अगर Fetures की बात करी जाए तो जो कुछ छोटे Miners सी गलतियां जो कि Windows 8 में थी वह सब इस Version में Fix कर दी गई थी । जिससे कि यह कुछ हद तक Bug Free Version बन गया था । इसमें Fetures तो सब सामान्य ही थे परन्तु कुछ Features में परिवर्तन किया गया था।

Windows 10

Microsoft द्वारा यह Version 30 September 2014 में लाया गया था। यह Windows का सबसे Latest Version है जो कि अभी तक उपयोग में लाया जाता है यह काफी एडवांस Version है। मैं यह पोस्ट इसी Version के उपयोग से लिख पाया। अगर मैं Windows 10 के Features की बात करू तो यहां आपको स्टार्ट बटन में एक अलग सा न्यू लुक देखने को मिलता है। जिससे हाल ही में उपयोग की गई Application सामने ही नजर आ जाती है।

इसमें Microsoft Edge Browser का भी Support दिया गया है जिससे इंटरनेट को सर्फ करना काफी तेज हो जाता है ।

इसमें आपको Cortana का Support भी देखने को मिलेगा जैसे कि आज हम OK Google का उपयोग करते है उसी तरह यह Cortana भी उपयोग में लाया गया था ।

अगर मैं Security की बात करू तो Windows 10 में आपको Biometric, Fingerprint, जैसे Fetutes भी देखने को मिल जाते है जिससे कि आपका PC कोई भी आसानी से एक्सेस नहीं कर सकता।

और आपकी बेहतर जानकारी के लिए आपको बता दूं कि windows 10 के बाद windows 11 कभी नही आने वाला बल्कि इसकी जगह windows 10 में ही हर साल 2 बड़े update दिए जाएंगे।

क्योंकि पहले जो लोग जिस windows version को इस्तेमाल करते थे उन्हें उनकी आदत हो जाया करती थी जिसके कारण नया windows version आने के बाद भी लोग पुराने windows को ही इस्तेमाल करते थे। इसीलिए microsoft ने ये फैसला लिया कि windows 10 के बाद अब इसका आगे का version कभी नही आयेगा बल्कि इसी में हर साल 2 बार अपडेट दिए जाएंगे।

विंडोज के प्रकार

ऐसे तो Windows के कई प्रकार होते है पर हमने इन्हे यंहा 2 भागो में विभाजित किया है । क्युकी सबसे मुख्य केवल 2 ही विंडोज़ के प्रकार है जो कि कुछ इस प्रकार से है –

1. Single User Operating System –

इस तरह के OS (Operation System) में एक समयंतराल में केवल एक ही व्यक्ति के द्वारा कंप्यूटर को उपयोग में लाया सकता है।

2. Multiple User Operating System –

इस तरह के OS का उपयोग नॉर्मल व्यक्ति द्वारा नहीं किया जाता है इस तरह के OS में एक ही समय में एक या एक से अधिक व्यक्ति द्वारा उपयोग में लाया जा सकता है इस तरह के Operating System का उपयोग बड़ी बड़ी कंपनियों के द्वारा उपयोग में लाया जाता है जिससे कि एक ही समय में एक साथ सभी उपयोगकर्ता कंप्यूटर को उपयोग कर सके।

विंडोज की कीमत

विंडोज़ के हर Addition के हिसाब से अलग अलग तरह के Prices है । जो कि उसके लाइसेंस की कीमत है जिसे आपको भुगतान करना पड़ता है उसके बाद ही आप अपने कंप्यूटर में इसे बुटिंग के द्वारा इंस्टाल के पाते है।

यहां मैंने कुछ कीमतों को दिया हुआ है पर आप जब भी कोई Version को खरीदने से पहले नवीनतम कीमत जरूर देख ले ये सभी कीमतें Microsoft की Official वेबसाइट के अनुसार है ।

Windows Version Prices In Hindi

SrAdditionPrices
1Windows HomeRs 10,000/-
2Windows ProRs 15,000 /-
3Windows Pro For WorkstationRs 22,000/-

यह सभी कीमतें एक लगभग है जब भी आप अगर विंडोज़ का कोई भी Version खरीदते है तो उसकी सही कीमत को जरूर देखले।

विंडोज से लाभ

यहां आपको में विंडोज़ के कुछ फायदो के बारे में बताऊंगा जो कि कुछ इस तरह है –

1. Simple User Interface

जो व्यक्ति शुरू से विंडोज़ का उपयोग कर रहे है वह जानते है कि इसका उपयोग किस तरह से किया जाता है परन्तु जो इसे कभी उपयोग नहीं किए उनके लिए भी यह उपयोग करने में काफी आसान लगता है अगर एक बार सही से समझ लिया जाए तो Windows को किसी भी उम्र के व्यक्ति उपयोग कर सकते है । दूसरे OS की बजाय Windows उपयोग करने में काफी सरल होता है।

2. Windows Store

Windows में आपको Store मिल जाता है जिससे कोई आप बहुत सारी Application को इंस्टॉल कर सकते है अपने उपयोग के हिसाब से यह भी Windows User’s के लिए काफी अच्छा विकल्प है। इसी कारण यह काफी प्रचलित OS है।

3. Software Updates

Windows में आपको हमेशा नए Version का Update मिल जाता है और पुराने Version में जो Application Run करती है उन्हे नया Version भी Support करता है यह भी Windows User’s के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद है।

Windows के दोष

जन्हा एक तरफ किसी भी चीज के फायदे होते है वहीं कुछ कमिया भी होती है इसी तरह विंडोज़ में भी कुछ कामिया है जो कि इस तरह है –

1. High Prices

Microsoft Windows OS की तरह जो दूसरे Operating System हैं जैसे कि Linux,Chrome OS, ReactOS इन सभी के मुकाबले ज्यादा कीमत होती है।

2. Weak Security

अगर Windows Version की सुरक्षा को देखा जाए तो शुरू से ही इन Versions में ज्यादा Security नहीं मिलती है दूसरे OS जैसे कि Linux इत्यादि के मुकाबले Windows Version को आसानी से हैक किया जा सकता है ।

यदि आपको याद हो तो 2017 में Wannacry Ransomeware Attack की घटना सामने आती थी। जिससे दुनियाभर 150 देशों के 2,00,000 से भी ज्यादा Computers को प्रभावित किया था।

अन्तिम शब्द

तो ये था आज का हमारा आर्टिकल जिसमे मैंने आपको बताया कि windows operating system क्या है और कैसे ये कैसे काम करता है और इसका पूरा इतिहास क्या है।

मुझे उम्मीद है कि windows क्या है के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होंगी लेकिन अगर अभी भी आपको कोई सवाल है what is windows in hindi से जुड़ा तो आप कमेंट द्वार पूछ सकते है और ये आर्टिकल आपको पसंद आया है तो इसे शेयर जरूर करे।

आपका स्वागत है Indiakabest.in पर, मेरा नाम है Shehzad Ansari और मैं इस website का founder हूँ। यहा आपको हर रोज Internet और Android से जुड़ी नई-नई जानकारियां मिलती रहेगी. अगर आप भी एक Android user है तो हमारे ब्लॉग को follow जरूर करे। आप Google पर IndiaKaBest search करके हमारे ब्लॉग पर आ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here