What is HTML in hindi, HTML क्या है ये कैसे काम करता है, इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है, इसके कितने versions है और HTML कैसे सीख सकते है अगर आप भी इन सभी सवालों के जवाब ढूंढ रहे है तो आज आप बिलकुल सही जगह पर आए है क्योंकि यहाँ इन सभी सवालों के पूरी detail में जवाब मिलने वाले है।

अगर आज आपसे इंटरनेट की बात की जाए तो यह बीते कुछ समय मे बोहोत विकसित हो गया है। अगर देखा जाए तो आज के समय मे हर कोई इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहा है अपने कार्यो को आसान बनाने के लिए और अपना समय बचाने के लिए।

कुछ समय पहले तक इंटरनेट सिर्फ कंप्यूटर तक ही सीमित था लेकिन अब इंटरनेट मोबाइल तक भी बोहोत अच्छी तरह आ चुका है। और ऐसे में आज हम बात करने वाले है HTML के बारें में।

आज इस आर्टिकल में आपको मैं HTML की पूरी जानकारी देने वाला हूँ कि HTML क्या है, इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है और कैसे किया जाता है।

html kya hai

बोहोत से लोगो के मन मे ये सवाल रहता है कि क्या हम भी HTML का इस्तेमाल कर सकते है ? या नही तो इसका सीधा सा जवाब है हा। आप भी HTML का इस्तेमाल करके webpages बना सकते है और यहा तक कि ये एक प्रोफेशन में भी आता है, जो सॉफ्टवेयर इंजिनीअर होते है वह लोग HTML अच्छी तरह जानते है। तो चलिए इस आर्टिकल की शुरुवात करते है इस बात से की HTML क्या होता है।

HTML क्या है? What is HTML in Hindi

HTML एक मार्कअप लैंग्वेज है जिसका इस्तेमाल इंटरनेट पर webpages या वेबसाइट बनाने के लिए किया जाता है। Html से ही web browser को ये पता चलता है कि हमारे web-page की information users को किस तरह से दिखानी है।

एक वेबसाइट बोहोत सारे webpage को मिलाकर बनाई जाती है और वेबपेज को बनाने के लिए HTML language का इस्तेमाल किया जाता है। और इसी के साथ एक वेबपेज बनाने के लिए JavaSript, Phython और C++ languages का भी इस्तेमाल किया जाता है लेकिन इन सभी Computer language में सबसे आसान language HTML को ही माना जाता है।

इसके अलावा एक वेबपेज को अच्छे से सजाने के लिए CSS (Cascading Style Sheet)  का भी इस्तेमाल किया जाता है। जिससे कि वेबपेज पहले के मुकाबले काफी सुंदर हो जाता है।

HTML का Full Form

HTML का full form Hypertext markup language होता है, जो एक computer language है जो कि CSS के साथ मिलकर काफी बेहतरीन वेबपेज बनाने में मदद करती है। 

HTML एक Webpage और Web से सम्बंधित Application बनाने में सबसे ज्यादा उपयोग की जाने वाली मार्कअप भाषा है। किसी Website के Page को खोलने पर वेबसाइट का content कैसा दिखना चाहिए web browser को इसका पता html से ही चलता है। Web Browser को Web Server से HTML के रूप में डॉक्युमेंट प्राप्त होता है, जिसे वेब ब्राउज़र मल्टीमीडिया वेब पन्ने में बदल देता है।

HTML का फॉर्मेट कैसा होता है

जिस तरह हम किसी भी Music फाइल को .mp3 में Video फाइल को .mp4 में व किसी भी Image को .jpg या .jpeg में Save करते है। वैसा ही किसी भी HTML फाइल का एक खुद का अपना फॉर्मेट होता है। जैसा की मैं आपको ऊपर पहले ही बता चुका हूँ।

जब भी कोई html file बन कर तैयार हो जाता है तो उस फ़ाइल के नाम के आखिर में .htm या .html ही लिख कर ही सेव किया जाता है, क्योंकि यह html file का format है और अगर आप ऐसा नही करेंगे तो आपका html file किसी भी ब्राउज़र में ओपन नही हो होगा इस बात का ज़रूर ध्यान रखे।

HTML Tags किस तरह के होते है

अब तक आपको यह समझ आ चुका होगा कि HTML क्या है और इसका उपयोग कैसे किया जाता है। जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि html सीखना कोई बोहोत बड़ी बात नही है और html में tags का बोहोत बड़ा रोल होता है।

अब अब हम html tags के बारे में ही बात करने वाले है कि गए कितने प्रकार के होते है और इन्हें कहा-कहा और कैसे इस्तेमाल किया जाता है। तो चलिए जानते है html tags क्या होते है।

किसी भी साधारण text और HTML Tags में बोहोत अंतर होता क्योंकि html के सभी tags एक bracket “</>” के अंदर बंद होते है, इन brackets में less-than sign “<” और Greater-than sign “>” का इस्तेमाल किया जाता है। किसी भी html tag का format कुछ इस तरह का होता है- <html>

हम हमारी वेबसाइट में पेज में भी जो बदलाव करते है उनमें भी html tags का इस्तेमाल किया जाता है, html tags का उपयोग करके ही हम अपने वेबपेज में Images, Videos, Font या Text Colour में बदलाव कर पाते है। html tags बोहोत बड़ी शंख्या में मौजूद है और हर html tag का अपना विशिष्ट कार्य होता है।

और जब भी किसी html से बने वेबपेज को ओपन किया जाता है तो उसमे html tags कभी नजर नही आते है सिर्फ उन tags का output नजर आता है। 

Html Tags के इस्तेमाल से ही आप किसी वेबपेज में Design कर सकते है बशर्ते आपको सभी HTML Tags का अच्छा ज्ञान होना चाहिए। यंहा मैं आपको कुछ ज्यादा उपयोग में आने वाले HTML Tags के बारे में ही बताऊंगा क्योंकि सभी सभी html tags के बारे में इस आर्टिकल में बताने से यह आर्टिकल बोहोत बाद भी हो जाएगा और आपको इन्हें समझने में भी दिक्कत होने लगेगी।

HTML Code बनाने से पहले कमेंट लिखा जाता है। कमेंट में आप कुछ भी लिख सकते है क्योंकि इसका web page के अंदर किसी प्रकार का असर नही पड़ता या इसका कुछ भी output नही है क्योंकि इसे सिर्फ इस लिए लिखा जाता है ताकि आपको यह याद रह सके कि ये कोड क्यों डाला गया है या ये कोड किस बारे में है। आप चाहे तो इसे छोड़ भी सकते है।

<!-- Write your comments here -->

यहाँ नीचे आपको मैंने HTML के कुछ Basic Tags का लिस्ट दिया है इन Tags का सबसे ज्यादा Webpage बनाने के लिए उपयोग किया जाता है इन Tags के अलावा और भी Tags होते है।

<!DOCTYPE>Defines the document type
<html>Defines an HTML document
<head>Contains metadata/information for the document
<title>Defines a title for the document
<body>Defines the document’s body
<h1> to <h6>Defines HTML headings
<p>Defines a paragraph
<br>Inserts a single line break
<hr>Defines a thematic change in the content
<!–…–>Defines a comment

<head>………………</head>

html में 2 तरह के tags होते है एक Start Tag <head> और End Tag </head> होते है और जब भी कोई start tag लिखा जाता है तो उसके बाद उसका end tag लिखना भी जरूरी होता है वरना उसका output बिल्कुल गलत भी आ सकता है।

इसी <head> के अंदर <title> को लिखा जाता है जो भी हम हमारे वेबपेज को Title देते है वह इसी एक अंदर लिखा जाता है जिसे कुछ इस तरह से लिखा जाता है ।

<title>write your title here</title>

<title> tag के बाद <body> tag लिखा जाता है यही सबसे मुख्य tag होता है इसी body tag के अंदर सभी चीज़े की जाती है text का color बदलने के लिए, पैराग्राफ डालने के लिए इसके अलावा जितनी भी चीज़े की जाती है वह body tag के अंदर tag डालकर ही की जाती है।

यदि आपको किसी text कलर बदलना है तो उसका भी code डालना पड़ता है यह भी Tags से ही किया जाता है।

what is html in hindi example

Example

<span style="background-color: #ff6600;">YOUR NAME</span>

यहाँ YOUR NAME का कलर केसरिया रंग का है इसके आगे और पीछे आप देख सकते है सभी Tags है ऐसे ही आप और भी HTML Tags <Body> के अंदर लिख सकते है।

<!DOCTYPE HTML>
<html>
<header>
<title>My First HTML Document</title>
</header>
<body>
<h1>heading of document</h1>
<p>paragraph of this document.</p>
<p>second paragraph of this document.you can add as many paragraphs as possible like this.</p>
</body>
</html>

दोस्तों मैने अभी आपको यंहा Basic HTML Tags के बारे में बताया है जो की आपको पता होना चाहिए और यंहा मैने जितने भी Tags के बारे में बताया है इसके अलावा और भी बहुत सारे HTML Tags होते है।

HTML का उपयोग कैसे करे

सबसे पहले आपको यह जानना होगा की आखिर HTML Web Document किस जगह बना सकते है तो इसे बनाने के लिए आपको एक Note Editor / Notepad की आवश्यकता होती है और अपने जो डॉक्यूमेंट तैयार किया है उसे Open करने के लिए आपको कोई भी Internet Browser की आवश्यकता होती है। इसमें पहला काम यह होता है आपके पास जो Note Editor है उसमे आपको HTML Code Ready करना होता है HTML Codes को एक एक Tags के ज़रिये तैयार किया जाता है।

यानि की पूरी HTML फाइल छोटे छोटे Codes से मिल कर बनी हुई होती है यह छोटे छोटे Codes मिलकर ही एक पूरी कतार के रूप में पूरा Webpage Document तैयार करते है। 

इन छोटे छोटे Codes को ही HTML Tags कहा जाता है यही Tags किसी भी Browser को यह निर्देश देते है की फाइल किस रूप में दिखाई देगी। 

दोस्तों यंहा आपको बता दूँ की HTML Tags की संख्या बहुत होती है ऐसे में किसी भी Text को Bold करने के लिए Color बदलने के लिए या और किसी भी तरह के Graphics डालने के लिए Tags का उपयोग किया जाता है। 

सबकुछ कम्पलीट होने के बाद HTML Webpage File को सेव करना होता है और html file का अपना अलग ही फॉर्मेट होता है जिसे File के नाम के आखिर में .htm या फिर .html के द्वारा लिखा जाता है। यही फॉर्मेट होने पर यह HTML फाइल किसी भी Web Browser में सही से Open होगी वरना ओपन ही नहीं होगी।

HTML का इतिहास

HTML के इतिहास की बात करे तो इसका इतिहास काफी पुराना रहा है।आज हम जो HTML Version का उपयोग कर रहे है वह 5.2 Version है। इसके पहले और भी पुराने Version थे तो चलिए अब हम विस्तार से इसके इतिहास के बारे जान लेते है 1990 के दशक में हुई थी।

ऐसे HTML का जनक भौतिक विज्ञानी Tim Berners-Lee को माना जाता है।ये CERN संस्था में कार्यरत थे और साथ ही यह एक Computer Scientist भी थे जिन्होंने CERN संस्था में काम करने वाले शोधकर्ताओं को Computer Documents को उपयोग करने और एक दूसरे से साझा करने के लिए एक नए System से अवगत करवाया था।

इन्होने 1989 में इंटरनेट पर आधारित एक hypertext प्रणाली का एक प्रस्ताव दिया। इसके बाद Tim Berners-Lee के द्वारा पहली बार 1991 में HTML को Internet पर लाया गया।

HTML के Versions

आज के समय में हम जो HTML Version देखते है। वह सबसे नवीनतम Version है इसके अलावा हम जान लेते है की HTML के पुराने Version भी है जो इस प्रकार है।

  • 1989 – Tim Berners-Lee invented www
  • 1991 – Tim Berners-Lee invented HTML
  • 1993 – Dave Raggett drafted HTML+
  • 1995 – HTML 2.0
  • 1997 – HTML 3.2
  • 1999 – HTML 4.01
  • 2000 – XHTML 1.0
  • 2008 – WHATWG HTML5 First Public Draft
  • 2012 – WHATWG HTML5 Living Standard
  • 2014 – HTML5
  • 2016 – HTML 5.1
  • 2017 – HTML5.1 2nd Edition
  • 2017 – HTML5.2

ये सभी HTML के Versions है और सबसे latest version 5.2 है इसके बाद भी और कई नए Version इसके आते रहेंगे HTML में नए नए Version को लेकर आना और HTML को मैनेज एक संस्था द्वारा किया जाता है जिसका नाम World Wide Web Consortium है। यह संस्था 1994 में प्रारम्भ हुई थी जिसके CEO Jeffrey M. Jaffe है। यह संस्था आज भी पूरी तरह से अपना काम कर रही है।

HTML की विशेषताएं

HTML एक बहुत ही बढ़िया आसान और जल्दी सीखी जाने वाली प्रोगरामिंग भाषा है। इसकी अपनी कुछ विशेषताएं है जिनसे यह प्रोगरामिंग भाषा काफी विशिष्ट है

यह काफी सरल भाषा है इसे आसानी से सीखा जा सकता है और आसानी से इस भाषा में फेर-बदल किया जा सकता है।

यह किसी भी ऑपरेटिंग सॉफ्टवेयर में आसानी से चलाया जा सकता है।

इस में आप इमेजेज,वीडियोस,म्यूजिक, सभी को जोड़कर डॉक्यूमेंट और Web Page बनाया जा सकता है।

इसमें CSS के साथ मिला कर और भी ज्यादा Desing किया जा सकता है।

इसमें आप अलग अलग कई सारे Webpages को Links के द्वारा जोड़ भी सकते है।

html में अलग अलग चीज़े करने के लिए अलग Tags होते है जिनसे हमारा काम आसान हो जाता है।

पूरी HTML Webpage बन जाने के बाद Webpages का Storage Size काफी कम होता है।

इसे आप किसी भी Web Browser में ओपन कर के देख सकते है।

HTML कैसे सीखे

HTML सीखने के बोहोत सारे तरीके है आप चाहे तो इसे ऑनलाइन भी सीख साकते है या फिर offline भी सिख सकते है। लेकिन offline HTML सीखने के लिए आपको एक अच्छे class को join करना होगा जिसके लिए आपको पैसे भी खर्च करना पड़ सकते है।

लेकिन मैं आपको सलाह दूंगा की आप ऑनलाइन ही सीखे क्योंकि HTML सीखना कोई बोहोत बड़ी बात नही है और ऑनलाइन में आपको बोहोत सारे ऑप्शन मिलेंगे बिल्कुल फ्री में HTML सीखने के लिए।

W3schools.com

इंटरनेट पर फ्री में html सिखाने वाली बोहोत सारी वेबसाइट है लेकिन उन सभी मे w3schools.com सबसे बेहतरीन वेबसाइट है जहाँ आप बिलकुल फ्री में किसी भी तरह की programming भाषा को बोहोत आसान तरीको से सिख सकते है।

इस वेबसाइट में आपको बिल्कुल शुरू से html के बारे में सिखाया जाएगा साथ ही इसमे आप खुद से html कोड को edit करके और अच्छी तरह सीख सकते है। इसके अलावा आप इस वेबसाइट में CSS, JavaScript, Python और PHP जैसी भाषाओ को भी आप बिल्कुल शुरुवात से और आसान तरीके से सिख सकते है।

Youtube से 

Youtube एक ऐसा platform है जहा से आप हर तरह का ज्ञान हासिल कर सकते है घर बैठे और बिल्कुल फ्री में। इसी तरह आप यूट्यूब की मदद से HTML भी सीख सकते है।

youtube पर आपको html basic से advance level तक की free courses मिल जाएंगी और इसकी सबसे अच्छी बात है कि यूट्यूब पर आपको बोहोत सारे hindi tutorials भी मिलेंगे, मतलब अगर आपकी english ज्यादा अच्छी नही है तब भी html सीखने से आपको कोई नही रोक पाएगा।

आपको बस youtube पर “Html tutorial for beginners” लिखकर सर्च करने है और आपके सामने बोहोत सारे videos आ जाएंगी जिनसे आप बिलकुल शुरू से html सीख सकते है।

Online HTML Editor

ऑनलाइन html सीखने का एक काफी अच्छा तरीका यह भी है कि आप online html editor में प्रैक्टिस करके सिख सकते है। इसके लिए एक बोहोत अच्छी वेबसाइट की जिसका नाम है html-online.com है। इस वेबसाइट पर आप live html के output देख सकते है और सीख सकते है।

Free HTML PDF Books

दोस्तों आप अगर Books पढ़कर HTML सीखना चाहते है तो आप Free HTML Books का भी उपयोग करके आसानी से सिख सकते है इसके लिए आपको गूगल पर बहुत सारी ऐसी Websites मिल जाएगी जो फ्री Books या PDF प्रोवाइड करती है।

pdfdrive.com एक ऐसी ही वेबसाइट है जहाँ पर आपको हर तरह के pdf free में मिल जाएंगे, बस आपको इस वेबसाइट पर जाना है और html tutorial सर्च करने है हर आपके सामने बोहोत सारे pdf आ जाएंगे जिन्हें डाउनलोड करके आप html के बारे में अच्छे से सीख सकते है।

ये उपयोगी जानकारी भी ज़रूर पढ़े

अंतिम शब्द

दोस्तों मुझे उम्मीद है। आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी HTML क्या है (What is HTML in Hindi ) पसंद आया होगा क्युकी इस पोस्ट के अंदर मेने सभी चीज़ो को शामिल किया है जैसे – HTML कैसे सीखे,HTML सिखने के तरीके इत्यादि। और यदि आपको मेरा यह पोस्ट पसंद आया तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते है और हमें कमेंट के माध्यम से पोस्ट का फीडबैक जरूर दे।

आपका स्वागत है Indiakabest.in पर, मेरा नाम है Shehzad Ansari और मैं इस website का founder हूँ। यहा आपको हर रोज Internet और Android से जुड़ी नई-नई जानकारियां मिलती रहेगी. अगर आप भी एक Android user है तो हमारे ब्लॉग को follow जरूर करे। आप Google पर IndiaKaBest search करके हमारे ब्लॉग पर आ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here